Wednesday, September 15, 2010

फूल लोढ़ैत कनिया

        Bride Picking Flower    

मैथिल सबमे फूल लोढ़क व्यवहार बड पुरान अछि | मधुश्रावणी में पूरा पंद्रह दिन नवव्याहता अपन सखी सब संगे फूल लोढ़ैत छथि आ विषहरा के पूजा करैत छथि |

मैथिल में श्रावण  माह  में नवव्याहता  फूल चुनती हैं और पूजा करती हैं | 

In Maithils, newly wedded brides pick flolwers for worshipping Gods .




2 comments:

हमारीवाणी.कॉम said...

क्या आप ब्लॉग संकलक हमारीवाणी के सदस्य हैं?

हमारीवाणी पर ब्लॉग पंजीकृत करने की विधि

Jyoti Sunit said...

अगर ये प्रश्न मुझेसे है, तो मैं हमारीवाणी.कॉम की सदस्य नहीं हूँ और जानना चाहूंगी की क्या
विशेषताएं है उस ब्लॉग में -ज्योति

 
Share/Save/Bookmark