Saturday, November 21, 2009

पुरैन


  

5 comments:

Udan Tashtari said...

जानते नहीं क्या है मगर कलाकृति लुभावनी है.

HEY PRABHU YEH TERA PATH said...

BEAUTIFUL

मनोज कुमार said...

अहांक ब्लॉंग पर आबि कै शांति भेटल।

Kusum Thakur said...

धन्यवाद बाद निक लागल .

करण समस्तीपुरी said...

वाह ! अपनेक ब्लॉग पर आबि सांचे मोन गद-गद भए गेल. अंतर्जाल पर अहांक सुन्दर संसृति अपन चिर-महान संस्कृति मे नव-प्राण फूँकि रहल अछि. अहि बेर त' अहाँक टिपण्णीक पाछा करैत-करैत पहुँच गेलौंह, मुदा आब सँ नियमित अबैत रहब ! धन्यवाद !!!

 
Share/Save/Bookmark